उत्तराखंड: टेम्पो चालक करा रहा था बेरोजगारी से रोजगार का सफर किराया जानकर होगी हैरानी।

Ad
ख़बर शेयर करें -

उत्तराखंड अधीनस्थ चयन सेवा आयोग द्वारा vdo/vpdo भर्ती परीक्षा में प्रश्नपत्र लीक मामले में की जा रही कार्रवाई के क्रम में एसटीएफ टीम द्वारा पूर्व में कुल 23 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया जा चुका है। एसटीएफ टीम द्वारा संकलित साक्ष्यों के आधार पर मुख्य अभियुक्त केंद्रपाल पुत्र भीम सिंह निवासी टीचर कॉलोनी धामपुर को आज शाम पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया गया। पूछताछ के दौरान जानकारी प्राप्त हुई है अभियुक्त केंद्रपाल वर्ष 1996 में टेंपो चलाता था एवं उसके बाद कुछ वर्षों तक रेडीमेड दुकान पर काम किया एवं उसके बाद कपड़ों की सप्लाई का काम किया।


वर्ष 2011 2012 में अभियुक्त प्रतियोगी परीक्षाओं में नकल कराने के गिरोह में जुड़ गया। और परीक्षार्थियों को पास कराने की एवज में लाखों वसूल कर करोड़ों की संपत्ति अर्जित कर ली। वर्ष 2012 में अभियुक्त केंद्रपाल की पूर्व में गिरफ्तार अभियुक्त चंदन मनराल से हुई। वर्ष 2011-12 में ही अभियुक्त केंद्र पाल की मुलाकात पूर्व में गिरफ्तार अभियुक्त हाकम सिंह रावत से हुई। अभियुक्त केंद्रपाल द्वारा ऐसे लोगो के नाम बताए हैं जिनके द्वारा पेपर उपलब्ध कराया जाता था जल्द उनके संबंध में भी जानकारी एकत्र की जा रही है। केंद्रपाल ने उक्त अपराध से करोड़ों की संपत्ति अर्जित की। करीब 12 बीघा जमीन धामपुर में ली। धामपुर में एक आलीशान मकान। सांकरी में हाकम सिंह के साथ रीजोर्ट में पार्टनरशिप। अभियुक्त के द्वारा कई अन्य संपत्तियां भी जोड़ी गई है जिन की जानकारी की जा रही है। विवेचना में अभी साक्ष्य संकलन की कार्यवाही जारी है।

Himfla
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *